twitcker

Random

Social Share



Wednesday, July 2, 2014

जब बप्पी लहरी को बोले राजकुमार 'मंगलसूत्र भी पहन लेते', पढ़ें ऐसे ही 10 किस्से!

जब बप्पी लहरी को बोले राजकुमार 'मंगलसूत्र भी पहन लेते', पढ़ें ऐसे ही 10 किस्से!



राजकुमार अपने जमाने के अक्खड़ और दमदार अभिनेताओं में गिने जाते थे। उनका अंदाज अपने समकालीन अभिनेताओं से जुदा और बेहद हसीं था। राजकुमार को लेकर कई किस्से बी-टाउन में आज भी चटखारे लेकर सुनाए जाते हैं। राजकुमार की शख्सियत ही ऐसी थी कि जो उनसे एक दफा मिल लेता वह उनका मुरीद हो जाता और राजकुमार की कही बात किस्सा बन जाती। किस्सागोई के माहिर अक्सर राजकुमार के अंदाज में जब इन किस्सों को सुनाते हैं, तो सुनने वाला भी इन किस्सों में डूबकर खुद को उसी मायावी दुनिया का अंग मान बैठता है, जहां राजकुमार कि महफ़िल सजा करती थी।



बॉलीवुड का ये दिवंगत अभिनेता जितना पर्दे पर अपनी संवाद अदायगी के लिए मशहूर था, उतना ही निजी जीवन में अपनी बेबाकी के लिए पहचाना जाता था। राजकुमार इस अंदाज में सामने वाले की टांग खींचते कि सामने वाले व्यक्ति की हालत न उगलते बनती न निगलते। जी हां राजकुमार अपने जमाने में इंडस्ट्री के सबसे मुंहफट शख्सियतों में से एक थे। उनके जो दिल में आता था, उसे वह शब्दों का बाण बनाकर सामने वाले पर दाग देते। इतना ही नहीं, वह यह बात तो सोचते भी नहीं थे कि सामने वाले को इसका बुरा लगेगा या नहीं।

राजकुमार के बारे में एक दिलचस्प किस्सा मशहूर है कि वह स्क्रिप्ट पसंद ना आने पर कैमरे के सामने ही अक्सर अपने संवाद को बदल डालते। राजकुमार की 3 जुलाई को पुण्यतिथि है। इस मौके पर हम राजकुमार के ऐसे ही किस्सों से आपको रूबरू करवा रहे हैं जो शायद आपने भी पहले कभी न कभी जरूर सुने होंगे। इन किस्सों को आज भी फिल्मों के दीवाने और बॉलीवुड के किस्सागोई अपनी महफिलों में खूब चटखारे लेकर सुनते-सुनाते हैं। अब इन किस्सों में कितनी सच्चाई है यह तो हम भी नहीं जानते, लेकिन इतना जरूर है कि ये किस्से राजकुमार जैसी शख्सियत के करीब के ही ज्यादा महसूस होते हैं...


गोविंदा की शर्ट का बना लिया था रुमाल!

राजकुमार और गोविंदा फिल्म 'जंगबाज' की शूटिंग कर रहे थे। बताते हैं कि गोविंदा शानदार शर्ट पहने हुए राजकुमार के साथ शूटिंग खत्म होने के बाद वक्त बिता रहे थे, तभी राजकुमार ने गोविंदा से कहा- यार तुम्हारी शर्ट बहुत शानदार है। चीची इतने बड़े आर्टिस्ट की यह बात सुनकर बहुत खुश हो गए। गोविंदा ने तब राजकुमार से कहा- सर आपको यह शर्ट पसंद आ रही है तो आप रख लीजिए। राजकुमार ने गोविंदा से शर्ट ले ली। गोविंदा खुश हुए कि राजकुमार उनकी शर्ट पहनेंगे और उनकी पसंद की तारीफ करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। दो दिन बाद सेट पर चीची ने देखा कि राजकुमार ने उस शर्ट का एक रुमाल बनवाकर अपनी जेब में रखा हुआ है।


बप्पी दा से बोले राजकुमार- बस मंगलसूत्र की कमी रह गई..!
संगीतकार बप्पी लहरी का नाम सुनते ही आपके जेहन में भी गहनों से लदे हुए एक भारी भरकम शख्स का चेहरा घूम जाता होगा। यह वाकया भी राजकुमार और बप्पी दा से ही जुड़ा है। एक पार्टी में संगीतकार बप्पी अक्खड़ दिमाग राजकुमार से जा मिले। अपनी आदत के मुताबिक बप्पी ढेर सारे सोने से लदे हुए थे। पार्टी में बप्पी को राजकुमार ने ऊपर से नीचे तक देखा और फिर अपने ही अंदाज में कहा- वाह, शानदार! एक से एक गहने पहने हो, सिर्फ मंगलसूत्र की कमी रह गई है। यह सुनना था और बप्पी दा का मुंह खुला का खुला ही रह गया।

जब जीनत से बोले राजकुमार - दिखती सुंदर हो फिल्मों में क्यों नहीं ट्राई करती!

यह वह दौर था जब जीनत अमान फिल्म इंडस्ट्री में फेमस हो गई थी। देवानंद स्टारर फिल्म 'हरे रमा हरे कृष्णा' का 'दम मारो दम' गाना धूम मचा चुका था और जीनत की लोकप्रियता रातों-रात बुलंदियों पर जा पहुंची थी। फिल्म निर्माता अपनी फिल्म में जीनत को साइन करने के लिए मरे जा रहे थे। बताते हैं इसी दौर में एक पार्टी में जीनत की मुलाकात राजकुमार से हुई। जीनत को लगा तारीफ के दो-चार शब्द राजकुमार जैसे कलाकार से सुनने को मिलेंगे, लेकिन हुआ बिल्कुल इसके उलट। राजकुमार ने जीनत को देखा और कहा- तुम इतनी सुंदर हो, फिल्मों में कोशिश क्यों नहीं करती? अब ये बात सुनकर जीनत का क्या हाल हुआ होगा, आप खुद ही समझ सकते हैं।

'जंजीर' ना करने की यह बताई वजह

प्रकाश मेहरा फिल्म 'जंजीर' में राजकुमार को लेना चाहते थे लेकिन उन्होंने ये फिल्म ठुकरा दी। राजकुमार ने इसकी दो वजहें दीं। पहली उन्हें प्रकाश मेहरा की सूरत अच्छी नहीं लगी और दूसरी राजकुमार ने कहा- तुम्हारे पास से बिजनौरी तेल की ऐसी बदबू आ रही है, हम फिल्म तो दूर तुम्हारे साथ एक मिनट और खड़ा रहना बर्दाश्त नहीं कर सकते। ऐसा राजकुमार ही कर सकते थे।

'मुझे नहीं डैनी को लो फिल्म में'

राजकुमार मुंह पर बोलने में विश्वास करते थे। ऐसे कई किस्से हैं जो इस बात की तस्दीक करते हैं कि राजकुमार कितने साफदिल और मुंहफट किस्म की शख्सियत थे। राजकुमार के पास एक प्रोड्यूसर उन्हें साइन करने आया लेकिन वो पैसे कम दे रहा था। राजकुमार ने पूछा,'कितने पैसे दोगे?' प्रोड्यूसर ने कुछ पैसे बोले तो उन्होंने कहा, 'उतने पैसे में तो उस गोरखे को ले जाओ!' राजकुमार का इशारा डेनी डेंजोग्पा की ओर था।

धर्मेन्द्र-जीतेंद्र और बंदर!

बॉलीवुड में एक किस्सा बेहद मशहूर है कि राजकुमार किसी साथी कलाकार को उसके सही नाम से नहीं बुलाते थे। इस बात के चलते कई अभिनेताओं का राजकुमार से मनमुटाव भी रहता था, लेकिन जैसे ही कोई अभिनेता राजकुमार की असलियत से परिचित होता वह मनमुटाव भुलाकर राजकुमार का दीवाना हो जाता। राजकुमार धर्मेन्द्र को जीतेंद्र और जीतेंद्र को धर्मेन्द्र नाम से संबोधित कर देते थे। इस पर धर्मेन्द्र को एक बार जबरदस्त गुस्सा भी आ गया था। तब राजकुमार का जवाब था राजेंद्र हो या धर्मेन्द्र या जीतेंद्र या बंदर क्या फर्क पड़ता है, जानी राजकुमार के लिए सब बराबर हैं।

सुनील तुम भी एक्टिंग सीख गए'

राजकुमार अपने समकालीन अभिनेताओं से भी पब्लिकली हंसी-मजाक कर लिया करते थे। कई दफा उनके हंसी-मजाक के चक्कर में दूसरे अभिनेता शर्मिंदा हो जाते। 'मदर इंडिया' हिट होने से भी पहले सुनील दत्त कई फिल्मों में काम कर चुके थे। एक पार्टी में जब भीड़ ने सुनील दत्त को घेर लिया तब राजकुमार ने सबके सामने उन्हें कहा था- जानी अब तुम भी थोड़ी एक्टिंग सीख गये हो।

अमिताभ का सूट है या पर्दा!

राजकुमार की बेबाक जुबान का शिकार बीते जमाने में बिग बी सरीखे अभिनेता भी हो चुके हैं। बताया जाता है कि एक बार की बात है जब राजकुमार मेगास्टार अमिताभ बच्चन से एक पार्टी में मिले और उन्होंने उनके विदेशी सूट की प्रशंसा कर दी। तब अमिताभ ने खुश होकर उन्हें उस जगह का पता बताना चाहा तो राजकुमार ने जवाब दिया कि उन्हें कुछ पर्दे सिलवाने थे। यह बात सुनकर बिग बी मुस्कराने के सिवाय और कुछ नहीं कर सके।

थानेदार से ऐसे बन गए हीरो

राजकुमार मुंबई के जिस थाने में कार्यरत थे, वहां अक्सर फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों का आना-जाना लगा रहता था। एक बार पुलिस स्टेशन में फिल्म निर्माता बलदेव दुबे कुछ जरुरी काम के लिये आये हुये थे। वह राजकुमार के बातचीत करने के अंदाज से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने राजकुमार से अपनी फिल्म 'शाही बाजार' में अभिनेता के रुप में काम करने की पेशकश की। राजकुमार अपने एक सिपाही की बात सुनकर पहले ही अभिनेता बनने का मन बना चुके थे, इसलिये उन्होंने तुरंत ही अपनी सब इंस्पेक्टर की नौकरी से इस्तीफा दे दिया और निर्माता की पेशकश स्वीकार कर ली।

शूटिंग पर नखरे

राजकुमार को लेकर बॉलीवुड में जितने किस्से कहे जाते हैं, शायद ही इतने किसी और स्टार को लेकर कभी कहे गए हों। राजकुमार असल जिंदगी में भी राजकुमारों की तरह ही पेश आते थे। कहते हैं कि फिल्म 'नीलकमल' के पहले शॉट में ही राजकुमार अड़ गए कि वे नकली आभूषण पहनकर काम नहीं करेंगे। निर्माता मरता क्या न करता, आनन-फानन में कहीं से किलो भर वजनी असली जेवर मंगाए गए और तभी राजकुमार शॉट के लिए तैयार हुए।